Monday, 22nd April 2019 10:06 am
Home  >  देश

मानवाधिकार आयोग को नहीं करनी चाहिए आतंकवादियों के मानवाधिकार की बात: गृहमंत्री राजनाथ सिंह

 Image Credit: फाइल

Published on October 13 2018 04:33 pm  |  Author: अंकुर मिश्रा

भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, की रोहिंग्या और अन्य अवैध प्रवासियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई मानवाधिकारों के नज़रिये से नहीं देखी जानी चाहिए क्योकि भारत के आचरण में किसी के साथ दुर्व्यवहार नहीं है। राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) के रजत जयंती में शिरकत किया, जहा उन्होंने कहा कि भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है और मानवाधिकार किसी धर्म पर आधारित नहीं है। कार्यक्रम में उनके साथ मुख्यअथिति के तौर पर प्रधान मंत्री मोदी भी थे, जहाँ राजनाथ सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, कि “मुझे विश्वास है कि सख़्त कार्रवाई के नाम पर अमानवीय कार्रवाई के लिए कोई जगह नहीं है. लेकिन मेरी यह भी दृढ़ धारणा है कि राष्ट्रीय और सामाजिक हित में उठाए गए क़दमों को मानवाधिकारों के उल्लंघन के दृष्टिकोण से नहीं देखा जाना चाहिए।”

गृह मंत्री ने हस्ते हुए कहा, "कई बार तो कुछ लोग आतंकवादियों के मानवाधिकारों को ले कर चिंता जताते है। मैं पूछना चाहता हूं कि ऐसे अपराधी या आतंकवादी न केवल दूसरों के मानवाधिकारों का उल्लंघन करते हैं बल्कि उनके जीने का अधिकार भी ले लेते हैं, ऐसी स्थिति में हम कैसे ऐसे अपराधियों के मानवाधिकारों का मुद्दा उठा सकते हैं।" आगे उन्होंने कहा की मुझे ख़ुशी है, कि उच्चतम न्यायालय का हालही में फैसला सात रोहिंग्या (असम से) के निर्वासन के पक्ष में था। ऐसे में मानवाधिकार को भी यह ध्यान देना चाहिए कि भारत में अवैध प्रवासियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई मानवाधिकारों के दृष्टिकोण से न देखी जाये।

उन्होंने मानवाधिकार आयोग की प्रसंशा करते हुए कहा, कि एनएचआरसी ने अपने 25 साल में कई उपलब्धियां हासिल की है और देश के संस्थागत ढांचे में खुद के लिए एक जगह बनायी है।

हम एक स्वतंत्र मीडिया हैं एवं मीडिया को निष्पक्ष रह कर रिपोर्टिंग करने एवं चलाने के लिए धन की जरूरत होती है। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए कृपया आर्थिक मदद करे।

Donate Now     Donate via Paypal

Tags: #NHRC    #RAJNATH SINGH    #NARENDRA MODI    #ASAM    #   

About अंकुर मिश्रा
अंकुर मिश्रा दिल्ली यूनिवर्सिटी से हिंदी में ग्रेजुएट है। अपनी पढाई के दौरान अंकुर विश्वविद्यालय की राजनीती में रहे है और वे भारतीय राजनीति में बेहद दिलचस्पी रखते है। इंडिया पॉलिटिक्स में अंकुर इनपुट डेस्क पर राइटर एवं रिपोर्टर का कार्य कर चुके है। अंकुर को पत्रकारिता के साथ-साथ कवि सम्मलेन एवं कविता पाठ का भी अनुभव है। Email- ankurlive01@gmail.com

Related News

राजस्थान की इन सीटो पर हावी है वंशवाद, हर सीट पर एक खास परिवार का बना है वर्चस्व

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- 'बाटला हाउस कांड शहीदों का अपमान नहीं था'

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी के गोद लिए गांव में विकास की ये है हालत, जर्जर पड़ा है जयापुर

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी को एमपी के जबलपुर में जनसभा के लिए नही मिली अनुमति, प्रतिनिधि मंडल ने दर्ज की शिकायत

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK
×

Subscribe Our Newsletter