Friday, 19th April 2019 09:53 am
Home  >  देश

मुस्लिम महिलाओं ने अल्लाह की कसम खाकर राम मंदिर बनवाने की बात पर जोर डाला, कहीं ये बड़ी बातें

Published on April 02 2019 02:54 pm  |  Author: हेमलता गुप्ता

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मतदान शुरू होने वाले हैं. लेकिन उससे पहले राजनीतिक पार्टियां चुनाव प्रचार में जोर-शोर से व्यस्त हैं. 2019 में लोकसभा चुनाव सात चरणों में होंगे. पहले चरण के मतदान 11 अप्रैल को होगा. 19 मई को सांतवे चरण के मतदान के बाद 23 मई को चुनाव के नतीजे घोषित किए जाएंगे.

सभी राजनीतिक पार्टियां अलग-अलग मुद्दों को लेकर चुनाव का प्रचार कर रही हैं. लेकिन देश की बड़ी राजनीतिक पार्टियों के मुद्दों में से इस बार राम मंदिर का मुद्दा गायब है. जबकि हमेशा से ही भाजपा और कांग्रेस के बीच राम मंदिर के मुद्दे को लेकर टकराव रहा है.

बेशक लोगों की आस्था से खेलते हुए राम मंदिर को बनाने का मंथन जारी है लेकिन इस बार महिलाओं ने लोकसभा चुनाव 2019 से पहले राम मंदिर के मुद्दे को पुरे जोर-शोर से उठाया है. हैरानी की बात ये है कि हिंदु ही नहीं बल्कि मुस्लिम महिलाएं भी अब राम मंदिर बनवाने के पक्ष में खड़ी होती नज़र आ रही हैं.

बीते सोमवार को इसी मुद्दे को लेकर मेरठ के छीपी टैंक मोहल्ले में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की महिलाओं ने बैठक की. इस बैठक में पूरे जोश के साथ मुस्लिम महिलाओं ने अल्लाह की कसम खाकर राम मंदिर बनवाने की बात पर जोर डाला.

इस बैठक में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शाहीन परवेज का कहना था कि भारत देश में रहने वाला हर व्यक्ति हिंदुस्तानी है. हिंदुस्तानियों की आस्था भगवान श्रीराम में हैं. ऐसी स्थिति में अयोध्या में राम मंदिर बनना ही चाहिए और ये सही समय है जब राम मंदिर को बनाया जा सकता है. उन्होंने ये भी कहा कि मंदिर बनाने के दौरान मुस्लिमों को जिस भी तरह से सहयोग चाहिए होगा हम लोग देने को तैयार हैं.

शाहीन परवेज ने ये भी कहा कि देश में कुछ ऐसे लोग हैं जो अपने फायदे के लिए अयोध्या में राम मंदिर बनने नहीं देना चाहते. उन्होंने लोगों को याद दिलाया कि बाबर से हिंदुस्तानी मुसलमानों का कुछ लेना-देना नहीं है. उन्होंने ये भी कहा कि बाबर ने हिंदु ही नहीं बल्कि मुसलमानों को भी अपना गुलाम बनाया था.  

उन्होंने अपना भाषण खत्म करने के दौरान कहा कि देश में उन्हीं मुसलमानों को रहने का हक है जो राष्ट्रवादी हैं. अपने भाषण में अंतिम में उन्होंने कहा कि श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में सभी देशवासियों की आस्था है. ऐसे में यहां राम मंदिर बनना ही चाहिए.  

हम एक स्वतंत्र मीडिया हैं एवं मीडिया को निष्पक्ष रह कर रिपोर्टिंग करने एवं चलाने के लिए धन की जरूरत होती है। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए कृपया आर्थिक मदद करे।

Donate Now     Donate via Paypal

Tags: #muslim    #ram mandir    #ayodhya    #lok sabha elections    #lok sabha chunav    #ram temple    #bjp   

About हेमलता गुप्ता
हेमलता गुप्ता दिल्ली की रहवासी है और वे पिछले 5 साल से अधिक समय से बतौर फ्रीलासंर काम कर रही है। हेमलता जी ने कई बड़े मीडिया संस्थानों जैसे, जागरण, टाइम्स इंटरनेट, अमर उजाला, हिंदुस्तान टाइम्स रिमिक्स न्यूज़पेपर आदि, के साथ काम किया है। इंडिया पॉलिटिक्स में हेमलता जी बतौर रिपोर्टर कार्यरत है। Email- hemlata.gupta1960@yahoo.com

Related News

टिकटॉक के बाद अब पबजी (PUBG) पर खतरा, राजकोट पुलिस ने की बैन करने की मांग

टेक न्यूज़ 14 hours ago

पीएम मोदी के नाम का जप कर रहे पाकिस्तानी शरणार्थी, मोदी को ही देंगे वोट

लोकसभा चुनाव 2019 14 hours ago

योगी पर चुनाव आयोग का बैन नाकाम? सीएम ने शुरू किया मंदिर विचरण

लोकसभा चुनाव 2019 14 hours ago

अब हिंदुत्व के सहारे चुनावी वैतरणी मे भाजपा, अयोध्या पीछे छूटा

लोकसभा चुनाव 2019 17 hours ago
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK
×

Subscribe Our Newsletter