Monday, 22nd April 2019 09:31 am
Home  >  देश

इंडिया पोस्ट को बड़ा झटका, 15 हज़ार करोड़ रूपए के घाटे में पहुंची कंपनी

Published on April 16 2019 04:27 pm  |  Author: शैफाली मिश्रा

सरकार भले ही दिन पर दिन फल फूल रही हो। सत्ता पर काबिज राजनेताओं के हर दिन अच्छे चल रहे हो लेकिन सरकारी कंपनियों का हाल इनसे बिल्कुल अलग है। अभी तक सबसे ज्यादा घाटे वाली सरकारी कंपनियों में एयर इंडिया और बीएसएनएल का नाम सबसे ऊपर रहता था लेकिन अब इंडिया पोस्ट ने घाटे के मामले में इन दोनो को ही पछाड़ दिया है। वित्त वर्ष 2019 में इंडिया पोस्ट 15,000 करोड़ रुपए के घाटे में पहुंच गई है। जबसे ये खबर चर्चा में आई है। इंडिया पोस्ट लगातार सुर्खियों में बना हुआ है।

गौरतलब है कि 2018 में सरकार पर निर्भर बीएसएनएल 8 हजार करोड़ रुपए और एयर इंडिया फाइनेंशियल ईयर में 5,340 करोड़ रुपए का घाटे पर थी। दरअसल दूसरे सरकारी उपक्रमों की तरह इंडिया पोस्ट ऊंची ऑपरेटिंग और कर्मचारियों को कम्पन्सेशन जैसी दिक्कतों  का सामना करना पड़ रहा है। तो कई पे कमीशन की रिपोर्ट लागू होने के कारण कर्मचारियों की सैलरी लगातार बढ़ती जा रही है। हालांकि पोस्टल सर्विसेस से रेवेन्यू गिरता जा रहा है। और ये सरकार जनता और कंपनी सभी के लिए बुरी खबर है। जिसपर विचार करना ज़रूरी है।

फाइनेंशियल ईयर 19 में अलाउंस और वेतन की कॉस्ट लगभग 16,620 करोड़ रुपए रही, जबकि रेवेन्यू 18,000 करोड़ रुपए हुआ। पीएसयू के मुताबिक फाइनेंशियल ईयर 2020 में सैलरी और पेंशन पर खर्च क्रमशः 17,451 करोड़ रुपए और 10,271 करोड़ रुपए रहेगा, जबकि रेवेन्यू 19,203 करोड़ रुपए रहने की संभावना है।

बता दें कि ये सरकारी कंपनियां पूरी कोशिश में है कि इन वित्तीय संकटो से बाहर निकल पाए, लेकिन प्रोडक्ट कॉस्ट और पारंपरिक मेलिंग सर्विसेस में उपलब्ध सस्ते विकल्पों के बीच असमानता के कारण कुछ नही कर पा रही है। वैसै ये आंकड़े वाकई चौंकाने वाले है साथ सरकारी कंपनियों का लगातार घाटे में जाना सरकार के मुंह पर तमाचे की तरह है।

हम एक स्वतंत्र मीडिया हैं एवं मीडिया को निष्पक्ष रह कर रिपोर्टिंग करने एवं चलाने के लिए धन की जरूरत होती है। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए कृपया आर्थिक मदद करे।

Donate Now     Donate via Paypal

Tags: #government company    #air india    #bsnl    #pm modi    #bjp    #india post    #company loss   

About शैफाली मिश्रा
शैफाली मिश्रा रायबरेली की रहवासी है। इन्हे मीडिया क्षेत्र में 3 साल का अनुभव है। शैफाली ने कई न्यूज़ चैनल्स और वेब पोर्टल्स में काम किया है। इंडिया पॉलिटिक्स में ये बतौर फ्रीलांसर काम करती है। शैफाली को कविताएं लिखने और संगीत में रूचि है। Email- shaifali.jimmc@gmail.com

Related News

राजस्थान की इन सीटो पर हावी है वंशवाद, हर सीट पर एक खास परिवार का बना है वर्चस्व

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- 'बाटला हाउस कांड शहीदों का अपमान नहीं था'

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी के गोद लिए गांव में विकास की ये है हालत, जर्जर पड़ा है जयापुर

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी को एमपी के जबलपुर में जनसभा के लिए नही मिली अनुमति, प्रतिनिधि मंडल ने दर्ज की शिकायत

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK
×

Subscribe Our Newsletter