Monday, 22nd April 2019 09:33 am
Home  >  देश

34 साल बाद पटियाला हाउस कोर्ट ने 1984 सिख दंगे के दो अपराधियों को दिया दोषी करार

Published on November 14 2018 11:55 pm  |  Author: अंकुर मिश्रा

बुधवार को 34 साल बाद, दिल्ली में हुए 1984 के दंगो पर दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने दो अपराधियों का दोषी ठहराया है। और कोर्ट ने एक दिन बाद यानि बृहस्पतिवार के दिन दोषियों को सजा सुनाने का फैसला किया है। जानकारी के अनुसार यह बताया जा रहा है कि सिख दंगों में दो सिखों की हत्या के मामले में बुधवार को कोर्ट ने दो अपराधी यशपाल सिंह और नरेश सहरावत को मुजरिम करार दिया है। इन दो हत्या के अलावा इन दोनों पर दंगा करने और हत्या की कोशिश का मामला भी कोर्ट में चल रहा था। बता दें दिल्ली के महिपालपुर क्षेत्र में 1984 में दो सिखों की हत्या की गई थी।

दिल्ली की सांसद मीनाक्षी लेखी के नेतृत्व में भाजपा व सिख नेताओं का प्रतिनिधिमंडल फैसले से एक दिन पहले मंगलवार को ही राष्ट्रपति भवन गया था और 1998 के दंगो के अपराधियों को सजा दिलाने की मांग की थी।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को प्रतिनिधिमंडल ने बताया बताया था की सुप्रीम कोर्ट ने आठ महीने पहले इस मामले की जाँच के लिए विशेष जांच दल (एसआइटी) का गठन दिया था पर अभी तक तीसरे सदस्य की नियुक्ति नहीं हो पाई है। और यह मांग की, कि एसआइटी के तीसरे सदस्य की नियुक्ति शीघ्र की जाए।

मीनाक्षी लेखी ने कहा 1984 में हुए दंगे से पीड़ित परिवार के लोग आज 34 साल बाद भी इंसाफ की राह देख रहें है। उन्होंने यह भी कहा की पुलिस और जांच एजेंसियों की लापरवाही के चलते दंगे के अपराधी आज़ाद घूम रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने जनवरी में सिख विरोधी दंगे के अपराधियों की जाँच के लिए एसआइटी का गठन किया था जिससे दंगा पीड़ित परिवारों का इन्साफ मिल सके। पर विडम्बना देखिये एसआइटी में तीन सदस्य होने चाहिए लेकिन एक पद अभी भी रिक्त है। इस गठन को दो महीने में जांच की रिपोर्ट देनी थी। लेकिन अभी भी एक पद खाली है जिसके चलते आठ महीने बाद भी जाँच आगे नहीं बढ़ रही है।

हम एक स्वतंत्र मीडिया हैं एवं मीडिया को निष्पक्ष रह कर रिपोर्टिंग करने एवं चलाने के लिए धन की जरूरत होती है। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए कृपया आर्थिक मदद करे।

Donate Now     Donate via Paypal

Tags: #Patiala House Court    #Meenakshi Lekhi    #Sikh Riots 1984    #President    #Ramnath Kovind   

About अंकुर मिश्रा
अंकुर मिश्रा दिल्ली यूनिवर्सिटी से हिंदी में ग्रेजुएट है। अपनी पढाई के दौरान अंकुर विश्वविद्यालय की राजनीती में रहे है और वे भारतीय राजनीति में बेहद दिलचस्पी रखते है। इंडिया पॉलिटिक्स में अंकुर इनपुट डेस्क पर राइटर एवं रिपोर्टर का कार्य कर चुके है। अंकुर को पत्रकारिता के साथ-साथ कवि सम्मलेन एवं कविता पाठ का भी अनुभव है। Email- ankurlive01@gmail.com

Related News

राजस्थान की इन सीटो पर हावी है वंशवाद, हर सीट पर एक खास परिवार का बना है वर्चस्व

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी ने कांग्रेस पर साधा निशाना- 'बाटला हाउस कांड शहीदों का अपमान नहीं था'

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी के गोद लिए गांव में विकास की ये है हालत, जर्जर पड़ा है जयापुर

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago

मोदी को एमपी के जबलपुर में जनसभा के लिए नही मिली अनुमति, प्रतिनिधि मंडल ने दर्ज की शिकायत

लोकसभा चुनाव 2019 1 day ago
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.OK
×

Subscribe Our Newsletter